एक्‍शन में शिवराज सरकार, BSP MLA रामबाई के पति की गिरफ्तारी के लिए 5 टीमों का गठन

0
401

दमोह| मध्‍य प्रदेश के बहुचर्चित कांग्रेस नेता देवेंद्र चौरसिया हत्याकांड मामले में सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) की तल्ख टिप्पणी के बाद शिवराज सरकार (Shivraj Government) हरकत में आ गई है. सरकार के आदेश के बाद फिलहाल एडीजी एसटीएफ प्रभारी विपिन माहेश्वरी ने दमोह पहुंच कर पथरिया विधायक रामबाई (BSP MLA Rambai) के पति गोविंद सिंह की गिरफ्तारी के लिए तैयारियां शुरू कर दी हैं. इसके लिए उन्‍होंने 5 टीमों का गठन किया है जिसके बाद सभी टीमों ने अलग-अलग ठिकानों पर दबिश देते हुए 25 लोगों से पूछताछ की है. यही नहीं, सागर आईजी द्वारा आरोपी गोविंद सिंह पर 30 हजार का इनाम घोषित कर दिया गया है|

बहरहाल, पथरिया विधायक रामबाई के पति गोविंद सिंह की गिरफ्तारी को लेकर भोपाल से दमोह पहुंची एसटीएफ टीम प्रयासों में जुट गई है, लेकिन इस संबंध में एडीजी एसटीएफ प्रभारी विपिन माहेश्वरी एवं सागर संभाग के आईजी/डीआईजी मीडिया से कुछ भी बात करने से बचते हुए दिखाई दे रहे हैं|

बता दें कि पिछले दिनों मध्य प्रदेश के दमोह में पुलिस पर हटा के द्वितीय अपर सत्र न्यायाधीश ने गंभीर आरोप लगाए थे. कांग्रेस नेता देवेन्द्र चौरसिया हत्याकांड की सुनवाई कर रहे जज आरपी सोनी ने जिला सत्र न्यायाधीश को पत्र लिखते हुए आशंका जताई थी कि इस मामले में अभियुक्‍तों के साथ-साथ दमोह पुलिस अधीक्षक द्वारा अपने अधीनस्थों संग उन पर झूठा एवं मनगढ़ंत दबाव बनाया जा रहा है. पुलिस अधीक्षक (दमोह) द्वारा अपने अधीनस्थों के साथ मिलकर उनके विरुद्ध भविष्य में गंभीर झूठे आरोप लगाए जा सकते हैं. यही नहींं, भविष्य में उनके साथ कोई भी अप्रिय घटना हो सकती है. जबकि इस मामले में सुप्रीम कोर्ट द्वारा हटा के द्वितीय अपर सत्र न्यायालय को आदेश दिया गया था कि संबंधित मामले में अभियुक्त की गिरफ्तारी कर कोर्ट में पेश किया जाए, जिसके अंतर्गत हटा एसडीओपी को संबंधित मामले में अभियुक्‍तों की गिरफ्तारी को लेकर कोर्ट में अपना पक्ष प्रस्तुत करना था|

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here