कलेक्टर ने खुद पर लगाया 5000 का जुर्माना

0
160
collector-fine-of-five-thousand-5000-on-himself
collector-fine-of-five-thousand-5000-on-himself

क्या आपने कभी सुना है कि पहले कोई नियम को तोड़े और फिर अपने उपर ही जुर्माना लगाए। जी हां महाराष्ट्र के बीड में ऐसा ही मामला सामने आया है, जहां डीएम (Collector) ने पहले खुद प्लास्टिक के कप में चाय पी और उसके बाद अपने उपर ही पांच हजार रुपए का जुर्माना लगा दिया। इस घटना के बाद बीड के डीएम चर्चा में आ गए हैं और उनकी ईमानदारी की हर कोई तारीफ कर रहा है। दरअसल बीड जिले के कलेक्टर आस्तिक कुमार पांडे ने प्लास्टिक के कप में चाय पी थी, जिसके बाद उन्होंने अपने उपर 5000 रुपए का जुर्माना लगाया। अपने आप में यह पहला ऐसा मामला है जब डीएम ने अपने ही उपर जुर्माना लगाया हो।

प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान लगाया जुर्माना 

जानकारी के अनुसार डीएम ने तमाम पत्रकारों की प्रेस कॉन्फ्रेंस बुलाई थी और उन्हें चुनाव के बारे में सूचना दी। लेकिन इस दौरान कर्मचारियों ने तमाम मेहमानों को प्लास्टिक के कप में चाय परोस दी। सभी पत्रकारों ने इस कप में चाय पी, लेकिन आधे से अधिक पत्रकारों ने प्लास्टिक के कप में चाय पीने से इनकार कर दिया। जिसके बाद एक पत्रकार ने कलेक्टर से इसको लेकर सवाल किया।

पत्रकार ने एक घटना का जिक्र करते हुए डीएम से कहा कि एक गरीब किसान उम्मीदवार ने अपने जमा किए हुए पैसों को प्लास्टिक के एक थैले में लेकर आया था। लेकिन उस उम्मीदवार पर 5000 रुपए का जुर्माना लगाया गया था। पत्रकार ने जब इस घटना का जिक्र किया और डीएम कार्यालय में प्लास्टिक के कप के इस्तेमाल की बात कही। उन्होंने कहा कि प्लास्टिक के कप प्रतिबंधित हैं। पत्रकार के सवाल के बाद डीएम ने खुद पर ही पांच हजार रुपए का जुर्माना लगा दिया।

प्लास्टिक एक समस्या

गौरतलब है कि महाराष्ट्र में प्लास्टिक पर पूरी तरह से प्रतिबंध है। लेकिन प्रदेश में प्लास्टिक मिक्स कप का इस्तेमाल किया जा रहा है। इसी तरह के मिक्स कप का डीएम कार्यालय में भी इस्तेमाल किया जा रहा था, जिसको लेकर पत्रकार ने डीएम से सवाल पूछा था। ऐसे में सवाल यह उठता है कि आखिर किस तरह से मिक्स प्लास्टिक के कपों के इस्तेमाल को प्रदेश में रोका जाएगा।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here