भोपाल की मदद के लिए आगे आया रेलवे, स्टेशन पर तैयार किए आइसोलेशन कोच

0
679

भोपाल | मध्यप्रदेश ऐसे में घर का कोई सदस्य कोविड पॉजिटिव हो जाए और डॉक्टर उसे होम आइसोलेशन की सलाह दें तो आप क्या करेंगे। जाहिर है, परिजन को शहर में बनाए गए कोविड केयर सेंटर में लेकर जाएंगे। अगर ये सेंटर्स भी फुल हैं तो क्या करेंगे? ऐसी स्थिति से निपटने के लिए रेलवे की ओर से कोविड संक्रमितों के लिए भोपाल रेलवे स्टेशन के प्लेटफॉर्म नंबर-6 पर आइसोलेशन कोच की व्यवस्था की गई है। इन काेच में 25 अप्रैल यानी रविवार से आइसोलेशन की सुविधा मिलेगी। इसके लिए कोई भी शख्स ऐसे संक्रमित मरीज को यहां आइसोलेशन के लिए ला सकेगा, जिसे पॉजिटिव आने के बाद डॉक्टर्स की ओर से आइसोलेशन में रहने की सलाह दी गई है।

रेलवे की ओर से तैयार ये काेविड-19 आइसोलशन ट्रेन 22 कोच की है। इसमें 20 स्लीपर क्लास के कोच पेशेंट के लिए, एक पार्सल कोच जिसमें दवाइयां व जरूरी सामान रखा जाएगा। वहीं एक एसी काेच मेडिकल स्टाफ के रेस्ट के लिए रखा गया है। भोपाल डिवीजन के डीआरएम उदय बोरवणकर ने बताया कि प्रत्येक कोच में 9 केबिन हैं, इनमें 8 केबिन में मरीज और एक केबिन पैरामेडिकल स्टाफ के लिए होगा। प्रत्येक केबिन में 2-2 मरीजों को रखा जाएगा। इस तरह करीब 320 मरीजों को इस ट्रेन में आइसोलेट किया जा सकेगा। यहां आइसोलेट होने वाले मरीजों को स्वास्थ्य मंत्रालय की गाइडलाइन के मुताबिक नाश्ते व खाने की व्यवस्था की गई है। रेलवे ने ऐसा ही एक कोच हबीबगंज रेलवे स्टेशन पर भी तैयार किया है।

सभी कोच में 24 घंटे दो पैरामेडिकल स्टाफ की व्यवस्था रहेगी।

सभी कोच में एक इंडियन और एक वेस्टर्न बायो टॉयलेट की व्यवस्था रहेगी।

हर केबिन में तीन पंखे और एक कूलर की व्यवस्था रहेगी।

कोच के रूफ टॉप पर जूट के बोरे बिछाए गए हैं, इन्हें ड्रिप इरीगेशन विधि से पानी डालकर ठंडा किया जा रहा है ताकि इस मौसम में मरीजों को काेच में गर्मी न लगे।

मरीजों एवं उनके परिजनों की सुविधा के लिए कंट्रोल रूम बनाया गया है। 9752413476 और 9479981845 मोबाइल नंबर पर संपर्क किया जा सकता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here