जिसके लिए मां ने रखा व्रत उसने लगाई faasi

0
451
which mother kept her fast, she imposed faasi

भोपाल। शिवाजी नगर स्थित खाली पड़े आई-टाइप क्वार्टर में अंकुर चेस एकेडमी के मैनेजर और बीए की छात्रा ने फांसी (faasi) लगाकर मंगलवार सुबह खुदकुशी कर ली। दोनों के शव किचन में एक ही फंदे पर लटके मिले हैं। एमपी नगर पुलिस इसे प्रेम प्रसंग से जोडक़र देख रही है। मैनेजर घर का इकलौता बेटा था। मंगलवार को मां ने उसके लिए संतान सप्तमी का उपवास रखा था। बाएं ओर के कमरे में युवती रहती थी,दाएं तरफ के आखिर के दूसरे कमरे में युवती और युवक ने लगा ली फांसी।

          ये भी पढ़े : प्यारे मियां के ठिकाने पर दबिश

which mother kept her fast, she imposed faasi
which mother kept her fast, she imposed faasi

झुग्गी 48, शिवाजी नगर निवासी 21 वर्षीय उमेश रायकवार अंकुर चेस एकेडमी में मैनेजर थे। साथ ही वे बीसीए अंतिम वर्ष की पढ़ाई भी कर रहे थे। उमेश यहां दो बहनों सुनीता, ज्योति और माता-पिता के साथ रहते थे। सोमवार को उमेश के दोस्त के पिता का पारुल अस्पताल में ऑपरेशन हुआ। ज्योति ने बताया कि मंगलवार सुबह 7 बजे उमेश ने कहा,दीदी चाय बना दे, मैं अस्पताल में चाय देकर आता हूं। इसके बाद वह चाय लेकर घर से निकल गया। करीब आठ बजे मां ने पूजा के लिए उसे बुलाने के लिए कहा तो ज्योति ने कॉल किया जो उमेश ने रिसीव नहीं किया।
दुपट्टे बांधकर बनाया फंदा ज्योति ने उमेश के दोस्त कमल शर्मा से पूछा। कमल की बहन चित्रा को फोन  किया तो उसने भी कॉल रिसीव नहीं किया। चित्रा पड़ोस में किराए से रहती थी। साढ़े आठ बजे चित्रा के पड़ोस वाले खाली मकान में ताला नजर नहीं आया। दरवाजा तोडक़र अंदर गए तो किचन का दरवाजा भी अंदर से बंद था। ये दरवाजा तोड़ा तो उमेश और चित्रा फंदे पर लटके मिले। उन्होंने दो दुपट्टों को एक में बांधकर फांसी लगा ली थी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here