गणेश उत्सव और मोहर्रम के सार्वजनिक आयोजनों पर रोक, बड़ी मूर्तियां और ताजिया बनाने पर पाबंदी

0
392
ban-on-public-event-of-ganesh-utsav-and-moharram

भोपाल। मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने गुरुवार को कहा कि अगर प्रदेश में कोरोना को खत्म करना है, तो हमें उसकी चेन तोडऩी होगी। इसके लिए जरूरी है कि गणेश उत्सव और मोहर्रम में सार्वजनिक आयोजन और समागम न किए जाएं। उन्होंने अफसरों को निर्देश दिए हैं कि देखें कि कहीं गणपति की बड़ी मूर्तियां और ताजिए तो नहीं बन रहे हैं। अगर ऐसा हो रहा है तो उस पर तत्काल पाबंदी लगाएं। मुख्यमंत्री गुरुवार को वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए कोरोना की समीक्षा कर रहे थे। सीएम का 7 दिन का होम आइसोलेशन बुधवार को ही समाप्त हुआ है। वह कोरोना संक्रमण से मुक्त होने के बाद सीएम हाउस में ही आइसोलेशन पर थे।

मध्य प्रदेश अब कोरोना से ठीक होने वाले यानि रिकवरी रेट में तीसरे नंबर पर पहुंच गया है। प्रदेश में अब कोरोना का रिकवरी रेट 74.7 प्रतिशत हो गया है। तमिलनाडु और गुजरात के बाद तीसरे नंबर पर सबसे कम है। सीएम शिवराज ने कहा कि सभी जिले मास्क पहनने तथा सोशल डिस्टेंसिंग का पालन सुनिश्चित करें। यह कोरोना संक्रमण को रोकने में प्रभावी हैं। होम आइसोलेशन के साथ-साथ कोरोना की चेन तोडऩे के लिए जहां आवश्यक हो वहां संस्थागत क्वारैंटाइन की व्यवस्था करें।


धार्मिक कार्यक्रमों का आयोजन घरों में ही हों


सीएम ने अधिकारियों को कड़े निर्देश दिए हैं कि धार्मिक कार्यक्रम घरों में ही हों। जेलों में फैल रहे संक्रमण को गंभीरता से लेने और इसकी रोकथाम के लिए जरूरी उपाय किए जाएं। डॉक्टर, मेडिकल स्टॉफ पुलिस और फ्रंटलाइन पर काम कर रहे शासकीय सेवकों को संक्रमण से बचाने के लिए हरसंभव कोशिश करें।


टेस्टिंग क्षमता में लगातार हो रही है वृद्धि


समीक्षा में बताया गया कि प्रदेश में टेस्टिंग क्षमता में लगातार विस्तार हो रहा है। अब 20 हजार से अधिक टेस्ट प्रतिदिन किए जा रहे हैं। अब तक कोरोना से प्रभावित 42 हजार 618 में से 31 हजार 835 व्यक्ति स्वस्थ हुए हैं। वर्तमान में सक्रिय केस 9 हजार 718 हैं।  

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here