कांग्रेस नेता गोविंद सिंह ने CM से किया अनुरोध: “सिंधिया खेमे” से किसी को न दें राजस्व विभाग।

0
991
Congress leader Govind Singh requested CM: Do not give revenue department to anyone from
Congress leader Govind singh

भोपाल: कांग्रेस नेता गोविंद सिंह ने मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान से अनुरोध किया है कि वे “सिंधिया खेमे” से किसी को भी राजस्व विभाग आवंटित न करें और आरोप लगाया कि राजस्व मंत्री के माध्यम से, भाजपा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया को उनके ट्रस्ट को आवंटित होने वाली सरकारी जमीन मिल सकती है।

ग्वालियर उच्च न्यायालय में सरकारी वकीलों के साथ कलेक्टर अधिकारी ने सिंधिया के नाम पर सरकारी भूमि का उल्लेख किया। सिंह ने कहा कि, महाराज को राजस्व मंत्री की मदद से अपने ट्रस्ट के नाम पर सरकारी ज़मीन मिलती है, इसलिए मैंने मुख्यमंत्री जी से निवेदन किया है कि वे सिंधिया खेमे से किसी को भी राजस्व मंत्री न चुनें।

सिंह ने कहा कि, मुख्यमंत्री को साढ़े सात करोड़ लोगों के हित में सरकारी संपत्ति को संचित करना चाहिए। इसी के साथ, श्री सिंह ने यह भी आरोप लगाया कि “स्वतंत्रता के बाद, ज्योतिरादित्य सिंधिया के परिवार द्वारा सरकारी ज़मीन पर अतिक्रमण किया गया था।

कांग्रेस नेता के आरोपों के बाद, मध्य प्रदेश के कैबिनेट मंत्री विश्वास सारंग ने कहा कि कांग्रेस नेताओं ने अपना मानसिक संतुलन खो दिया है।

श्री सारंग ने कहा, यदि यही सुझाव पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ को दिए जाते तो हालात बेहतर होते। सिंधिया ने न्याय के लिए लड़ाई लड़ी है, उन्होंने कांग्रेस का साथ इसलिए छोड़ा क्योंकि कमलनाथ सरकार द्वारा किसानों का कर्ज माफ नहीं किया जा रहा था, और कांग्रेस ने राज्य में अराजकता पैदा कर रही थी। उन्होंने अपने फायदे के लिए कांग्रेस को नहीं छोड़ा। 

तत्कालीन कमलनाथ के नेतृत्व वाली सरकार में श्री सिंधिया के करीबी मंत्री गोविंद सिंह राजस्व मंत्री थे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here