कांग्रेस के वचनपत्र में नहीं दिखे दिग्विजय, कमलनाथ ने बनाई दुरी

0
117
Congress वचनपत्र जरी करते हुए कमलनाथ और दिग्विजय
Congress वचनपत्र जरी करते हुए कमलनाथ और दिग्विजय

भोपाल। उपचुनाव की तैयारी जोरो शोरो से चल रही। सभी पार्टी एक दूसरे को गिराने के लिए अपना अपना मोर्चा संभाले खड़ी है। हर पार्टी अपनी विपक्षी पार्टी को गिराने के लिए निम्न तरह के बयान दिए जा रहे है। बीजेपी हो या कांग्रेस (Congress) कोई भी ये बात नई कर रहा की जनता के लिए क्या करेंगे, बस विपक्षी तंज कसे जा रहे है।

उपचुनाव के लिए कांग्रेस (Congress) ने किया वचन पत्र का विमोचन। पीसीसी चीफ और पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह और पूर्व केंद्रीय मंत्री सुरेश पचोरी ने किया विमोचन। प्रदेश कांग्रेस के कार्यकारी अध्यक्ष फिल्म जीतू पटवारी पूर्व मंत्री सज्जन वर्मा और पीसी शर्मा भी मौजूद थे। 28 विधानसभाओं के लिए अलग वचन पत्र भी बनाया गया। विमोचनवचन पत्र में कोरोनावायरस परिवारों को आर्थिक सहायता और मुआवजे का वादा किया।

कमलनाथ के सरकारी आवास में हुआ विमोचन।

ये भी पढ़े : साध्वी प्रज्ञा का दिग्विजय सिंह पर हमला, दिग्गी के उपचुनाव से दूर रहने पर बोली साध्वी

वचनपत्र में नहीं मिला स्थान – 

कांग्रेस (Congress) की अंतर्कलह और गुटबाजी की एक झलक फिर सामने आई। कांग्रेस का आपसी कलह और गुटबाजी आज (शनिवार) को वचन पत्र में देखने को मिली।

जब कांग्रेस के वचनपत्र में प्रदेश के नेताओ को कोई स्थान नहीं दिया गया।

कांग्रेस वचनपत्र जरी करते हुए कमलनाथ और दिग्विजय
कांग्रेस वचनपत्र जरी करते हुए जीतू पटवारी, दिग्विजय, कमलनाथ, सुरेश पचौरी

ये भी पढ़े : जीतू पटवारी – बीजेपी ने पुलिस वाले गुंडे पाल रखे है, आवाज दबाने का काम करते है

कमलनाथ ने बनाई दुरी –

पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने आज कांग्रेस (Congress) का वचनपत्र घोषित किया। जिसमे से राज्यसभा सांसद दिग्विजय सिंह का चित्र गायब रहा।

बताया ये भी जा रहा है की पूर्व मुख्यमंत्री कमलनाथ ने दिग्विजय सिंह से दूरी बन ली है।

कमलनाथ का बयान –

कमलनाथ ने अपने वचनपत्र में कुल 52 मुद्दे शामिल किये। कमलनाथ ने कहा, पिछले वचनपत्र में हमने 974 मुद्दे शामिल थे। जिसमे से 15 महीने की सरकार में इनमें से 574 वचन पुरे किए। इसकी गवाह जनता है। कमलनाथ ने अपने बयान में शिवराज पर साधा निशाना कहा, जनता का ध्यान मोड़ने के लिए कभी पाकिस्तान मुद्दा बन जाता है।

कोविड का शुरू में तो शिवराज मजाक उड़ाते थे।

पिछले 7 महीने झूठी घोषणा और नारियल फोड़ने में, बेमतलब की बात करने में गवा दिये।

बीजेपी ध्यान भटकने की राजनीति में माहिर है
  • इस उपचुनाव में जनता शिवराज जी से मुंह नहीं मोड़ेगी
  • शिवराज को जोर से तमाचा मारेगी।
  • जनता ने 15 साल बाद भाजपा को घर बिठाया था।
  • बीजेपी ध्यान भटकने की राजनीति में माहिर है।
  • कोरोना में मृत व्यक्तियों के परिवार को पेंशन देंगे।
  • हम मप्र के अगले 3 साल का रोड मैप बना रहे।
  • 200000 तक का किसानों का ऋण माफ होगा।
  • हमने बिना ब्याज का ऋण का मुद्दा भी शामिल किया है।
पढ़िए कांग्रेस का वचनपत्र – 

vachan patra

बीजेपी पर साधा निशाना –

कमलनाथ ने कहा, इनका चुनाव प्रचार तो बीते 7 महीने से चल रहा था।  हमने अभी 4 दिन से शुरू किया और ये चार दिन के ही बोखला गये। जनता आने वाले दिनों में हमारे इस वचन पत्र को पढ़ कर विचार करे फिर अपना फैसला ले।
प्रचार में अकेले दिखाई देने पर कहा, ऐसी बात नहीं है मैं कोई सुपर स्टार नहीं हूँ, बल्कि मैं कोई स्टार ही नहीं हूँ।
स्टार तो शिवराज सिंह चौहान हैं।

शिवराज को मुम्बई जाना चाहिए, वो तो एक्टिंग में शाहरुख खान को भी डुबो देगें।

ये भी पढ़े : कांग्रेस के किसान अध्यक्ष दिनेश गुर्जर ने दिया विवादित बयान, सियासत हुई तेज

Daily Update के लिए अभी डाउनलोड करे : MP samachar का मोबाइल एप  पत्र.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here