चलती ट्रेन में चढ़ने के चक्‍कर में फिसला वृद्ध यात्री का पैर, ऐसे बची जान

0
339

भोपाल। भोपाल रेलवे स्टेशन पर एक बुजुर्ग चलती ट्रेन पर चढ़ने के प्रयास में ट्रेक पर गिर गए। वे राप्तीसागर एक्सप्रेस ट्रेन से सफर कर रहे थे। ट्रेन और प्लेटफार्म के बीच में फंस गए। इस दौरान उन पर से दो बोगी निकल गईं। बुजुर्ग बचने के लिए ट्रेक पर लेटे रहे। गार्ड ने सूझबूझ दिखाते हुए ट्रेन को इमरजेंसी ब्रेक लगाकर रोक दिया। इससे बुजुर्ग की जान बच गई। गिरने के कारण उनके सिर पर चोटें आई हैं।

 

भोपाल में रहने वाले राजेश मुरखेरिया इटारसी मेल गार्ड हैं। उन्होंने बताया कि भोपाल से दिल्ली की तरफ जाने वाली ट्रेन नंबर 12512 राप्तीसागर एक्सप्रेस में वे गुरुवार रात ड्यूटी पर थे। रात करीब 12.23 बजे ट्रेन भोपाल रेलवे स्टेशन के प्लेटफार्म नंबर-2 पर पहुंची। तय समय पर गाड़ी चलने लगी। अभी गाड़ी की स्पीड ज्यादा नहीं थी। इसी दौरान गार्ड बोगी से करीब तीन डिब्बे पहले एक बुजुर्ग ट्रेन पर चढ़ते नजर आए।

 

मैं उन्हें देख रहा था। उन्होंने गेट का हैंडल पकड़ने का प्रयास कर रहे थे। उन्हें देखते हुए लग रहा था कि वे चढ़ नहीं पाएंगे। हादसे की आशंका को देखते हुए मैंने गाड़ी को रोकने का निर्णय लिया। इसी दौरान बुजुर्ग गाड़ी के नीचे आ गए। ट्रेन को रोकने के लिए प्रेशर कम किया। जब तक गाड़ी रुकती उन पर से दो डिब्बे उन पर से निकल चुके थे। गनीमत रही के उन्हें ज्यादा चोट नहीं आई। उन्हें आरपीएफ को सौंप दिया।

 

आरपीएफ ने बताया कि बुजुर्ग की पहचान यूपी के गोंडा में रहने वाले 65 साल के तीरथ पांडे के रूप में हुई। वे राप्तीसागर एक्सप्रेस में चेन्नई से गोंडा जा रहे थे। भोपाल में स्टाप होने के कारण वे कुछ सामान लेने के लिए प्लेटफार्म पर उतरे थे। सामान लेने के दौरान ट्रेन चलने लगी। जल्दबाजी में वे चलती ट्रेन पर चढ़ने का प्रयास करने लगे। इसी दौरान वे फिसलकर प्लेटफार्म से नीचे गिर गए। ट्रेन समय पर रोके जाने के कारण उनकी जान बच गई। समझदारी दिखाते हुए वह जमीन पर लेट गए थे।

 

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here