टिकटॉक बैन होते ही इंस्टाग्राम रील्स बना लोगो की पसंद

0
404
Tiktok
Tiktok

देश। चीनी एप टिकटॉक के बैन किए जाने के बाद लाखों भारतीय अपनी क्रिएटिविटी दिखाने के लिए नए मंच की तलाश में हैं और इसी को ध्यान में रखते हुए फेसबुक ने अपना शॉर्ट वीडियो मेकिंग एप और इंस्टाग्राम रील्स भारत में शुरू कर दिया है। रील्स टैब नेवीगेशन बार पर एक नया टैब होगा, जो इंस्टाग्राम में एक्सप्लोर टैब को रिप्लेस कर देगा। रील्स के जरिए से यूजर 15 सेकेंड का मल्टीक्लिप वीडियो-ऑडियो रिकार्ड और एडिट कर सकते हैं।  साथ ही आप इसमें नए इफेक्ट्स और क्रिएटिव टूल्स के माध्यम से वैल्यू एडिशन कर सकते हैं। फोटो शेयरिंग प्लेटफार्म-इंस्टाग्राम ने इसी महीने की शुरुआत में रील्स की टेस्टिंग शुरू की थी।

फेसबुक इंडिया के डायरेक्टर मनीष चोपड़ा ने कहा, “भारत पहला ऐसा देश है, जहां हम रील्स शुरू कर रहे हैं। हमने यहां काफी क्रिएटिविटी देखी है। हमें उम्मीद है कि लोग रील्ड को एन्जॉय करेंगे.” रील्स को अभी यूरोप में शुरू नहीं किया गया है। जाहिर है कि टिकटॉक के जाने के बाद इंस्टाग्राम रील्स युवा भारतीयों का सबसे पसंदीदा एप बन गया है। एक रिसर्च के मुताबिक 18 से 29 साल के बीच के 10 में सात भारतीय इसे पसंद करते हैं, और उनका कहना है कि वे वीडियो शेयरिंग प्लेटफार्म के तौर पर उपयोग में लाना चाहते हैं|

बता दें सरकार ने जून में टिकटॉक समेत 59 चीनी एप्स को देश में बैन कर दिया गया था। भारत और चीन के बीच गलवान में हुई हिंसक झड़प के बाद यह पहल की गई थी। चीनी एप्स पर बैन लगाने के फैसले पर भारत सरकार का कहना था कि सुरक्षा के मद्देनजर ये कदम उठाया गया है। सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय को विभिन्न स्रोतों से इन एप्स को लेकर कई शिकायतें मिली थीं। इनमें कई मोबाइल एप्स के दुरुपयोग की बातें थीं। ये एप्स आईफोन और एंड्रॉयड दोनों यूजर्स का डाटा चोरी कर रहे थे|

टिकटॉक चीनी एप है और इसके बैन के बाद भारतीय, भारत में बने या सीधे तौर पर गैर चीनी एप्स यूज करना चाहते हैं। 68 फीसदी टिकटॉक कंटेंस क्रिएटर्स का कहना है कि वे आने वाले समय में भारतीय या फिर नॉन-चाइनीज वीडियो शेयरिंग एप उपयोग में लाएंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here