यह गिरफ़्तारी है या आत्मसमर्पण? विकास दुबे की गिरफ़्तारी पर राजनीति

0
530
Is it arrest or surrender? Politics on Vikas Dubey's arrest

मध्यप्रदेश के उज्जैन शहर में गैंगस्टर विकास दुबे की गिरफ्तारी के बाद पक्ष और विपक्ष के बीच राजनीति शुरू हो गई है। जहां भाजपा गिरफ़्तारी पर अपनी सरकार की पीठ थपथपा रही है, वहीं कांग्रेस ने इसे सरकार की नाकामी बताया है। 

नेताओं और पार्टियों के ऑफिसियल ट्विटर एकांउट से पार्टी और कई नेता एक दूसरे पर आरोप लगाने में लगे हैं। कांग्रेस के पूर्व मंत्री जीतू पटवारी इससे पहले भी विकास के नाम पर भाजपा को घेर चुके हैं। उन्होंने कहा था कि मैं 6 साल से देश में विकास खोज रहा था और विकास योगी जी के यूपी में मिला।

कांग्रेस ने MP कांग्रेस के ट्वीटर हैंडल से प्रदेश की वर्तमान भाजपा सरकार पर निशाना साधा

भाजपा ने BJP मध्यप्रदेश के ट्वीटर हैंडल से प्रदेश की भाजपा सरकार की पीठ थपथपाते हुए कमलनाथ सरकार पर निशाना साधा

जीतू पटवारी ने ट्वीट करते हुए शिवराज सरकार की आलोचना की।

कांग्रेस के पूर्व मंत्री पीसी शर्मा ने एक के बाद एक ट्वीट करते हुए शिवराज सरकार पर निशाना साधा और प्रदेश में कानून व्यवस्था पर सवाल उठाएं। 

दोनों पक्षों मेंआरोप-प्रत्यारोप के बीच यूपी के पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने भी ट्वीट किया। 

पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने कहा कि, ये तो उत्तरप्रदेश पुलिस के एनकाउंटर से बचने के लिए प्रायोजित सरेंडर लग रहा है। मुझे सूचना मिली है कि मध्यप्रदेश भाजपा के एक वरिष्ठ नेता के सौजन्य से यह संभव हुआ है। ‘जय महाकाल’

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here