लोकायुक्त ने रंगे हाथों रिश्वत लेते राजस्व विभाग के निरीक्षक को किया ट्रैप

0
1263

भोपाल।भोपाल लोकायुक्त ने राजस्व निरीक्षक जहांगीराबाद मिश्रीलाल अग्रवाल को 10 हजार रुपए की घूस लेते हुए पकड़ा है। बताया गया कि मिश्रीलाल प्लॉट की एनओसी देने के लिए रुपए मांगे थे।जांच एजेंसी ने उसे कलेक्ट्रेट के सामने चाय की दुकान में दबोचा है। घटना के बाद से राजस्व विभाग में हड़कंप मच गया।

लोकायुक्त एसपी मनु व्यास ने बताया कि बोईपुर भोपाल में रहने वाले संदीप बाथम निजी काम करते हैं। उनके भाई का प्लॉट है। इसके निर्माण के लिए एनओसी लेनी थी। उन्होंने राजस्व निरीक्षक मिश्रीलाल अग्रवाल के पास आवेदन दिया था। इस पर मिश्रीलाल ने कहा कि एनओसी के लिए 10 हजार रुपए घूस देना होगा। संदीप ने रिश्वत में रियायत मांगी, लेकिन मिश्रीलाल अड़े रहे। इसकी शिकायत संदीप ने लोकायुक्त से कर दी। जांच में संदीप की शिकायत सही पाई गई।

मंगलवार को संदीप बाथम उसे रिश्वत देने के लिए राजी हो गए। इस पर उसने संदीप को कलेक्ट्रेट के सामने चाय की दुकान पर पैसे लेकर बुलाया। जैसे ही, संदीप ने मिश्रीलाल को 10 हजार रुपए दिए तभी लोकायुक्त इंस्पेक्टर मयूरी गौर की टीम ने दबोच लिया।

निरीक्षक मयूरी गौर ने बताया कि मिश्रीलाल को भरोसा था कि संदीप उसे घूस देगा। यही वजह रही कि उसने उसके प्लाॅट की एनओसी बना रखी थी। रिश्वत लेने के बाद वह एनओसी देता, इससे पहले टीम ने ट्रैप कर लिया। टीम मिश्रीलाल के बैंक खातों, संपत्ति की जांच भी करेगी। इधर, राजस्व विभाग के वरिष्ठ अधिकारी भी एक्शन करेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here