कोरोना ठीक होने के बाद भी है लोगो में डर, घबराहट, बेचैनी, नींद नहीं आने जैसी तकलीफे

0
66
Corona
Corona

भोपाल। Corona से स्वस्थ होने के बाद भी मरीजों का डर नहीं जा रहा है। कई तो ऐसे हैं जिनकी रात की नींद ही गायब हो गई है। सपने में भी आइसीयू दिखाई देता है। वेंटिलेटर की आवाज सुनाई देती है। ज्यादा डर उन मरीजों में है जो ऑक्सीजन सपोर्ट पर या फिर वेंटिलेटर पर रहे हैं। ठीक होने के बाद उन्हें डर सता रह है कि दोबारा कोरोना न हो जाए।

हमीदिया अस्पताल के मनोचिकित्सा विभाग के पूर्व एचओडी डॉ. आरएन साहू ने बताया कि पहले तो कोविड होने के डर के चलते लोगों को चिंता बीमारी हो रही थी। अब कोविड से ठीक हो चुके लोगों की मानसिक परेशानी और ज्यादा बढ़ गई है। उन्हें घबराहट, बेचैनी, नींद नहीं आने, एसिडिटी, चिड़चिड़ापन की तकलीफ हो रही है। उन्होंने बताया कि हर दिन इस तरह के 5 से 6 मरीज उनके पास इलाज के लिए पहुंच रहे हैं।

मनोचिकित्सक डॉ. प्रीतेश गौतम ने बताया कि रोज एक या दो मरीज इस तरह के आ रहे हैं। उनकी नींद गायब हो गई है। सपने में अस्पताल का दृष्य दिखाई देता है। काउंसिलिंग करने व चिंता दूर करने की दवाएं देने के बाद ही उन्हें आराम मिल रहा है। मनोचिकित्सक डॉ. सत्यकांत त्रिवेदी ने बताया कि उनके पास भी रोज एक-दो मरीज कोरोना से ठीक होने वाले आ रहे हैं। उन्होंने बताया सोशल मीडिया व अन्य माध्यमों से उन्हें पता चला है कि दोबारा भी कोरोना हो सकता है, लिहाजा उनकी चिंता बढ़ गई है। मनोचिकित्सकों ने कहा कि दोबारा कोरोना होने के मामले बहुत कम देखने को मिले हैं, इसलिए किसी को भी इस तरह से डरने की जरूरत नहीं है। हां, सावधान रहने की जरूरत है।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here