मंत्री की जीत की मन्नत के लिए समर्थक ने छोड़े जूते-चप्पल

0
172
Supporters
Supporters

ग्वालियर | : कांग्रेस से इस्तीफा देकर बीजेपी में गए सिंधिया समर्थक मंत्री प्रदुम्न सिंह तोमर ने अपने पूरे चुनाव प्रचार के दौरान जूते चप्पल नहीं पहने. फिर कुछ दिनों बाद पता चला था कि प्रदुम्न सिंह ने कसम खाई थी कि जब तक चुनाव नहीं जीत जाएंगे, तब तक वह नंगे पैर ही घूमेंगे. मंत्री जी के बाद अब उनका एक ऐसा समर्थक भी सामने आया है, जिसने कसम खाई थी कि जब तक प्रदुम्न सिंह चुनाव नहीं जीतेंगे तब तक वो भी चप्पल नहीं पहनेगा|

 

खबर के अनुसार, ग्वालियर के वार्ड 1 में रहने वाले प्रमोद झा ने जूते चप्पल छोड़ रखे थे, जिसकी बात जब मंत्री को अपनी जीत के बाद पता चली तो उन्होंने क्षेत्रीय पार्षद जगत सिंह कौरव के साथ मिलकर अपने समर्थक प्रमोद झा को खुद अपने हाथों से जूते पहनाये| ज्योतिष की समझ रखने वाले लोग मानते हैं कि अपनी मन्नत पूरी होने के लोगों द्वारा अलग-अलग तरह के टोटके अपनाये जाते है. जिनमें जूते चप्पल छोड़ नंगे पैर चलना भी शामिल है. वहीं जब मन्नत पूरी हो जाती है तो जूते चप्पल पहन लिए जाते है|

ये भी पढ़े : देश में टीकाकरण के लिए सरकार ने तेज की तैयारियां, वैक्सीन लगाने से पहले 4 राज्यों में होगा ड्राई रन

शिवराज सरकार में उर्जा मंत्री और ज्योतिरादित्य सिंधिया के कट्टर समर्थक कैबिनेट मंत्री  प्रद्युम्न सिंह तोमर अपने अलग अंदाज के लिए जाने जाते हैं. कभी वे खुद शौचालयों और नालियों की सफाई करते नजर आते हैं, तो कभी आधी रात को अस्पताल का निरीक्षण करने पहुंच जाते हैं. अपने इन्ही कामों के चलते प्रदेश की सियासत में प्रद्युम्न सिंह तोमर अपनी एक अलग पहचान बनाते जा रहे हैं|

ये भी पढ़े :अमित शाह, राजनाथ सिंह और नरेंद्र तोमर ने फिर दोहराया, MSP रहेगा जारी

ये भी पढ़े : देश में टीकाकरण के लिए सरकार ने तेज की तैयारियां, वैक्सीन लगाने से पहले 4 राज्यों में होगा ड्राई रन

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here