फर्जी वेबसाइट बनाकर कम दाम पर पेट्रोल पंप दिलाने का देते थे झांसा

0
83
fake
fake fake

भिंड: भिंड पुलिस ने फर्जी वेबसाइट बनाकर लोगों को कम दाम पर पेट्रोल पंप की डीलरशिप दिलाने के नाम पर ठगी करने वाले एक गिरोह को गिरफ्तार कर लिया है. इनमें पति-पत्नी भी शामिल हैं. पकड़े गए ठगों के पास से पुलिस ने 5 लाख रुपए नगद, आठ एटीएम कार्ड, 9 मोबाइल, एक लैपटॉप, एक स्कार्पियो और एक बुलेट भी बरामद किया है. बताया जाता है कि है कि ये लोग अब तक 1 करोड़ 20 लाख रुपए की ठगी कर चुके हैं. फिलहाल मामले की तह तक जाने के लिए पुलिस इन सभी से पूछताछ कर रही है|

 

पुलिस के मुताबिक उत्तर प्रदेश के बाराबंकी जिले के रहने वाले ऋषभ जैन ने कुछ समय पहले रिलायंस पेट्रोलियम लिमिटेड नाम से वेबसाइट देखी थी. जिस पर कम कीमत पर पेट्रोल पंप की डीलरशिप दिलाने की बात लिखी हुई थी. वेबसाइट पर संपर्क के लिए एक टोल फ्री नंबर भी दिया गया था. जब उन्होंने नंबर पर कॉल किया तो उनकी कुछ लोगों से बात हुई. कुछ डिटेल्स लेने के नाम पर आरोपियों ने ऋषभ जैन से 5 लाख रुपए विभिन्न खातों में डलवा लिए. इसके कुछ दिन बाद आरोपियों ने उनसे 15 लाख रुपए और देने के लिए कहा, जिस पर उन्हें संदेह हुआ|

इस पर ऋषभ जैन ने 15 लाख रुपए जमा करने से पहले पेट्रोल पंप का आवंटन सर्टिफिकेट देने के लिए कहा. जिसके लिए ठगों ने उन्हें रविवार को भिंड बुलाया था. यहां व्यापारी ने एसपी मनोज कुमार सिंह को पहले ही सूचना दे दी थी. जैसे ही स्कॉर्पियो क्रमांक यूपी 90 यू-5796 में सवार होकर ठग पहुंचे, पुलिस ने उन्हें पकड़ लिया. पकड़े गए आरोपियों के नाम इस प्रकार हैं- आरोपी आसिफ खान पुत्र नासिर खान निवासी झांसी, आकाश सिंह पुत्र पूरन सिंह निवासी महोबा, नेहा सिंह पत्नी आकाश सिंह निवासी महोबा हैं|

ये भी पढ़े :SDM ने तत्काल सस्पेंड किया पटवारी को नामांतरण के एवज में तीन हजार रुपए लेने पर 

भिंड पुलिस के मुताबिक गिरोह की तह तक जाने के लिए इन सभी से पूछताछ की जा रही है. जल्द ही गिरोह से जुड़े अन्य आरोपियों को भी गिरफ्तार कर लिया जाएगा. साथ ही वेबसाइट बनाने वाले व्यक्ति की भी तलाश की जा रही है|

 

Daily Update के लिए अभी डाउनलोड करे : MP samachar का मोबाइल एप 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here