केन्द्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के साथ चंबल एक्सप्रेसवे परियोजना की समीक्षा की

0
426
Union Minister Nitin Gadkari along with Chief Minister Shivraj Singh Chauhan reviewed the Chambal Expressway project
केन्द्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान के साथ चंबल एक्सप्रेसवे परियोजना की समीक्षा की

नई दिल्ली :- केंद्रीय सड़क एवं परिवहन और राजमार्ग मंत्री नितिन गडकरी ने शनिवार को वीडियो कॉन्फ्रेंस के जरिए प्रस्तावित चंबल एक्सप्रेस परियोजना की समीक्षा की। इस समीक्षा के अवसर पर मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, केन्द्रीय कृषि और किसान कल्याण मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर और भाजपा सांसद ज्योतिरादित्य सिंधिया भी उपस्थित रहे।

बैठक के दौरान केन्द्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने परियोजना को जल्द ही पूरा करने के लिए पर्यावरणीय मंजूरी, भूमि अधिग्रहण, और रॉयल्टी / स्थानीय कर छूट पर जोर दिया। उन्होंने रेखांकित किया कि सुगम यातायात और माल की आवाजाही के अलावा परियोजना से एक्सप्रेसवे के साथ-साथ पिछड़े क्षेत्र के लोगों को काफी फायदा होगा। साथ ही उन्होंने कहा कि प्रस्तावित परियोजना से रोजगार की बड़ी संभावनाएं हैं।

यह स्वर्णिम चतुर्भुज के दिल्ली-कोलकाता गलियारे, उत्तर-दक्षिण गलियारे, पूर्व-पश्चिम गलियारे और दिल्ली-मुंबई-एक्सप्रेसवे के साथ क्रॉस कनेक्टिविटी प्रदान करेगा। इसको लेकर उन्होंने कहा कि 8,200 करोड़ रुपये की परियोजना मध्य प्रदेश, उत्तर प्रदेश और राजस्थान से होकर गुजरेगी।

केंद्रीय मंत्री ने सुझाव दिया कि इन राज्यों के मुख्यमंत्रियों – जिनके माध्यम से सड़क पास होगी – राज्य स्तरीय उच्चाधिकार समिति की बैठक में सभी राज्य-विशिष्ट मुद्दों को सुलझाने के लिए बैठक आयोजित करेगी, जो इष्टतम लागत पर तेजी से कार्यान्वयन की सुविधा प्रदान करेगी।

वही गडकरी ने बताया कि उन्होंने एनएचएआई के अध्यक्ष को जल्द से जल्द डीपीआर तैयार करने का निर्देश दिया है। उम्मीद है कि भूमि अधिग्रहण के बाद लगभग 2 साल में यह परियोजना पूरी हो सकती है। आगे उन्होंने कहा कि इस क्षेत्र के बेहतर समन्वय और प्रगति के लिए चंबल विकास प्राधिकरण का गठन किया जा सकता है और राज्यों से आह्वान किया जा सकता है कि वे वन, पर्यावरण और भूमि अधिग्रहण के मुद्दों को सर्वोच्च प्राथमिकता में रखें।

इसके अलावा केन्द्रीय मंत्री नितिन गडकरी ने राज्यों को भी बस पोर्ट और ड्राइवर ट्रेनिंग स्कूल के प्रस्ताव भेजने के लिए आमंत्रित किया।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here