बाबरी मस्जिद मामले के सभी आरोपी बरी, रामलला को दिया धन्यवाद

0
190
CBI special court (babri masjid)
CBI special court (babri masjid)

लखनऊ। Babri Masjid को 6 दिसंबर 1992 को विध्वंस किया गया था। इसमें कई नेताओ को आरोपी माना गया था, लेकिन अब उन सभी नेताओ को बरी कर दिया गया है। स्पेशल कोर्ट ने अयोध्या में Babri Masjid विध्वंस मामले में आज (बुधवार) को फैसला सुना दिया है। इस मामले में सभी 32 आरोपी बरी हो गए है। अदालत ने अपने फैसले में कहा कि ये पूर्व नियोजित घटना नहीं थी। लखनऊ की स्पेशल सीबीआई कोर्ट ने आदेश जारी कर सभी आरोपियों को फैसले के दिन कोर्ट में मौजूद रहने को कहा था। इस मामले में पूर्व उप प्रधानमंत्री लालकृष्ण आडवाणी, मुरली मनोहर जोशी, उमा भारती जैसे कई बड़े नेता आरोपी हैं।

फैसले के मद्देनजर अयोध्या और लखनऊ में सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए ​थे।

ये भी पढ़े : Prime Minister Narendra Modi ने मंगलवार को कृषि कानून, श्रम कानूनों का जिक्र किया

कौन कौन थे मौजूद 

फैसले के समय लालकृष्ण आडवाणी, मुरली मनोहर जोशी, उमा भारती, रामचंद्र खत्री और सुधीर कक्कड़ सीबीआई कोर्ट में उपस्थित नहीं थे। पांचों आरोपियों की तरफ से उनके वकील कोर्ट में उपस्थित थे। आडवाणी और जोशी अधिक उम्र और खराब स्वास्थ्य की वजह से नहीं आ पाएंगे। वहीं उमा भारती कोरोना संक्रमित होने के बाद ऋषिकेश ऐम्स में भर्ती हैं। रामचंद्र खत्री हरियाणा के सोनीपत की जेल में एक दूसरे केस को लेकर बंद हैं, जिसके कारण उनकी भी उपस्थिति कोर्ट में नहीं हो सकी।

कार सेवक सुधीर कक्कड़ भी मौजूद नहीं थे।

ये भी पढ़े : मध्यप्रदेश में 3 नवम्बर को होगी वोटिंग, 10 नवम्बर को नतीज़े सामने आएंगे

कितने आरोपी थे, कितनो को किया बरी

इस मामले में कुल 49 लोगों को आरोपी बनाया गया था, जिनमें से अब तक 17 लोगों की मौत हो चुकी है, 32 लोगों को दोषमुक्त किया गया है। कोर्ट ने कहा कि ये एक तात्कालिक घटना थी, पूर्व नियोजित घटना नहीं थी।

इसलिए सभी आरोपियों को बरी किया जाता है।

ये भी पढ़े : बाबरी ढांचा विध्वंस केस पर फैसला कल, जयभान सिंह पवैया ने दिया बयान

Daily Update के लिए अभी डाउनलोड करे : MP samacha का मोबाइल एप  

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here