DJ-Disco के बिना करेगा न्यू ईयर का वेलकम, लेट नाइट पार्टी, ड्रिंक एंड ड्राइव की सोचना भी मत

0
141
New Year
New Year

इंदौर: लोग 2020 को अलविदा कह 2021 के वेलकम का बेसब्री से इंतजार कर रहे हैं. लेकिन इस बार कोरोना संक्रमण के चलते नए साल के जश्न में थोड़ी खलल जरूर पैदा हो गई है. मध्य प्रदेश की आर्थिक राजधानी इंदौर भी इससे अछूता नहीं है. कोरोना के चलते इंदौर प्रशासन ने इस बार नए साल के अवसर पर बड़े आयोजनों पर रोक लगा दी है. पब, बार, रेस्टोरेंट में 50 फीसदी क्षमता के साथ ही नए साल का जश्न मनाया जा सकेगा. वहीं सार्वजनिक आयोजनों पर रोक रहेगी. कहीं पर भी एंट्री फीस वाले आयोजन नहीं होंगे. डीजे पर डांस का आयोजन, कॉन्सर्ट इत्यादी पर बैन रहेगा|

ये भी पढ़े ; भारत में नए कोरोना वायरस से संक्रमित 6 मरीज मिले 

इंदौर में 1000 से ज्यादा छोटे-बड़े होटल हैं, जिनमें हर बार लोग परिवार के साथ जायकों का लुत्फ उठाते हुए नए साल का जश्न मनाते थे. इस बार थोड़ी पाबंदियां रहेंगी होटल, पब, बार, रेस्टोरेंट इत्यादी आधी क्षमता के साथ खुलेंगे. इसकी वजह से लोगों के जश्न में खलल पड़ना लाजमी है. देर रात तक चलने वाली पार्टियों पर पुलिस और प्रशासन की पैनी नजर रहेगी. इसके साथ ही जो लोग देर रात शराब पीकर ड्राइव करते या डांस-डिस्को करेंगे उन्हें अपना नया साल हवालात में गुजारना पड़ सकता है|

 

डीआईजी इंदौर हरिनारायण चारी मिश्रा का कहना है कि सभी प्रमुख चौराहों पर पॉइंट लगाए जाएंगे. जो हर आने-जाने वाले को चेक करेंगे, इसके अलावा ब्रीथ एनालाइजर के साथ पुलिस बल तैनात रहेगा, ताकि मौके पर ही यह पता किया जा सके कि कहीं कोई नशे में वाहन तो नहीं चला रहा. आपको बता दें कि इंदौर मध्य प्रदेश का सर्वाधिक कोरोना प्रभावित शहर रहा है और अभी नए मामलों के मिलने का सिलसिला जारी है. ऐसे में प्रशासन किसी तरह की ढील देकर स्थिति को आउट ऑफ हैंड जाने नहीं देना चाहता है. ब्रिटेन में मिला न्यू कोविड स्ट्रेन एक नई चुनौती के रूप में सामने आया है. इन्हीं वजहों से नए साल के जश्न को लेकर पाबंदियां लागू की गई हैं|

ये भी पढ़े : विधानपरिषद के डिप्टी स्पीकर का रेलवे ट्रैक पर मिला शव    

खजराना स्थित गणेश मंदिर में 31 दिसंबर और 1 जनवरी को आने वाले भक्तों को लेकर रूपरेखा तैयार की गई है. भक्तों को कालिका माता मंदिर की ओर से प्रवेश दिया जाएगा. गणेशपुरी कॉलोनी की ओर से बाहर जाने का रास्ता रहेगा. इस मार्ग को वन-वे किया जाएगा. मंदिर के गर्भगृह में प्रवेश निषेध रहेगा. कोरोना नियमों के तहत चार स्टेप में दर्शन होंगे|

1. ऐसा कोई भी आयोजन नहीं होगा, जिसमें अलग से टिकट लग रहा हो. आयोजनों में बाहर के कलाकर बुलाकर अलग से कार्यक्रम नहीं हो सकेंगे |

2. रेस्त्रां, बार आदि अपनी आधी बैठक क्षमता के साथ ही 31 दिसंबर के आयोजन कर सकेंगे. इसमें केवल संगीत कार्यक्रम होंगे. अलग से डीजे, डिस्को नहीं होंगे|

3. मैरिज गार्डन या अन्य खुले क्षेत्रों में डीजे, डिस्को आदि की व्यवस्था करते हुए बड़े आयोजन नहीं हो सकेंगे. रेस्त्रां, बार आदि अपने खुले क्षेत्र में 50 फीसदी क्षमता के साथ कुर्सियां लगाकर आमजन को खाद्य पदार्थ दे सकेंगे और संगीत आयोजन कर सकेंगे.

4. किसी भी जगह बार लाइसेंस शर्तों के तहत 21 साल से कम उम्र के युवाओं और युवतियों को प्रवेश नहीं दिया जाएगा. एसडीएम, आबकारी विभाग द्वारा लगातार मॉनिटरिंग की जाएगी और उल्लंघन पाए जाने पर कार्रवाई होगी|

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here