केंद्र सरकार या तो यूपी में नेतृत्व परिवर्तन करें या राष्ट्रपति शासन लगाए- मायावती

0
60
mayawati-yogi
mayawati-yogi

लखनऊ। बसपा प्रमुख एवं पूर्व मुख्यमंत्री (मायावती) Mayawati ने हाथरस एवं बलरामपुर में दलित वर्ग की बालिकाओं से बलात्कार एवं हत्या की घटना की कड़ी भर्त्सना करते हुए केंद्र सरकार से मांग की कि वो यूपी में आदित्यनाथ योगी को मुख्यमंत्री पद से हटाए। उन्होने कहा कि आदित्यनाथ योगी को आरएसएस के दबाव में मुख्यमंत्री बनाया गया।

उन्होने यह भी कहा कि या तो योगी आदित्यनाथ को हटाया जाये।

नहीं तो तो केंद्र सरकार उत्तर प्रदेश में राष्ट्रपति शासन लगाए।

मायावती ने दिया मीडिया को बयान – 

मायावती ने आज दिल्ली में मीडिया के सामने आकर काफी तल्ख शब्दों में कहा कि योगी आदित्यनाथ की सही जगह गोरखपुर का मठ है। उन्होने कहा कि यूपी के सभी 75 जिलों में रोज ही महिलाओं के साथ अपराध की घटनाएं हो रही है।

यूपी में अब अति हो चुकी है।

केंद्र सरकार या तो यूपी में नेतृत्व परिवर्तन करें या राष्ट्रपति शासन लगाए।

ये भी पढ़े : हाथरस मामला : परिजनों की थी मुख्यमंत्री से मिलने की मांग, पीडिता का पुलिस ने देर रात जलाया शव

ये है 4 आरोपी – 

Gangrape Culprit
Gangrape Culprit

क्या है हाथरस रेप कसे – 

यूपी के हाथरस में Gangrape की शिकार हुई बेटी की 15 दिन बाद दिल्ली के एम्स में मौत हो गई। बच्ची के साथ हैवानियत का अंदाजा इसी से लगाया जा सकता है कि दबंगों ने बारी-बारी से उसे अपनी हवस का शिकार बनाया।

बेटी अपनी जुबान न खोल पाए इसलिए उसकी जुबान काट दी।

चलकर अपने घर तक न जाए तो उसके रीढ़ की हड्डी तोड़ दी।

इतनी हैवानियत के बाद भी वह आखिरी सांस तक जिंदगी के लिए जंग लड़ती रही।

इस मामले में पुलिस पर भी लापरवाही का आरोप लगा है।

सियासत तेज होने पर पुलिस ऐक्शन में आई।

ये भी पढ़े : हाथरस में युवती के साथ गैंगरेप कर काटी जीभ, तोड़ी रीढ़ की हड्डी ताकि घर न जा पाए

गैंगरेप के बाद काटी थी जीभ –

बता दें कि यूपी के हाथरस के थाना चंदपा इलाके के गांव में 14 सितंबर को एक 19 साल की दलित युवती के साथ गांव के रहने वाले चार दबंग युवकों पर Gangrape का आरोप था।

पीड़िता के साथ हैवानियत की गई थी।

पुलिस के अनुसार, रेप के बाद उसकी जीभ भी काट दी गई थी।

ये भी पढ़े : बाबरी मस्जिद मामले के सभी आरोपी बरी, रामलला को दिया धन्यवाद

Daily Update के लिए अभी डाउनलोड करे : MP samacha का मोबाइल एप  

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here