फरवरी में आएगी वैक्सीन, पहले स्वास्थ्यकर्मियाें काे लगेगी; जनवरी को हो सकती है इस संबंध में घोषणा

0
67
vaccine
vaccine

ग्वालियर | शहरवासियों के लिए कोरोना वैक्सीन का इंतजार फरवरी में खत्म होने के आसार हैं। देश में दो वैक्सीन (कोविशील्ड और कोवैक्सीन) को इमरजेंसी में इस्तेमाल करने की मंजूरी मिल चुकी है। इसी माह वैक्सीनेशन की शुरुआत भी हो सकती है। ग्वालियर में वैक्सीन फरवरी में आने की संभावना है। पहले चरण में स्वास्थ्यकर्मियों को वैक्सीन लगाई जाएगी। 26 जनवरी को वैक्सीनेशन के संबंध में घोषणा की जा सकती है।

ये भी पढ़े :ग्वालियर मेला आयोजन को लेकरमंत्री की घोषणा के बाद भी नहीं आया आदेश 

प्रदेश में वैक्सीन का वितरण कुल चार स्टेट सेंटर (भोपाल, इंदौर, जबलपुर और ग्वालियर) से सभी जिलों में किया जाएगा। ग्वालियर स्थित स्टेट सेंटर में रखे वाॅक इन कूलर में कुल 25 लाख डोज रखने की क्षमता है। यहां से ही ग्वालियर-चंबल व सागर संभाग के अंतर्गत आने वाले जिलों में वैक्सीन वितरित की जाएगी। यहां बता दें कि स्टेट सेंटर से वैक्सीन इंसुलेटेड वैन के माध्यम से वैक्सीन सेंटर पर पहुंचाने का काम किया जाएगा।

अभी तक वैक्सीनेशन का जो प्लान तैयार किया गया है उसमें सबसे पहले चिह्नित स्वास्थ्यकर्मियों को वैक्सीन लगाई जाएगी। इसके बाद सेना, नगरीय निकाय व पुलिस को वैक्सीन लगाने की योजना है। इसके बाद 50 वर्ष से अधिक आयु के लोगों व गंभीर बीमारियों से ग्रसित लोगों को वैक्सीन लगाने का काम किया जाएगा। ये काम पूरा होने के बाद अन्य वर्ग को लगेगी।

आमजनता को कब वैक्सीन लगेगी, इसके संबंध में आधिकारिक घोषणा होना शेष है। उम्मीद की जा रही है कि मार्च में यह काम शुरू हो सकता है। इसके लिए तैयारियां की जा रही हैं। बता दें कि वैक्सीन के ड्राय रन के दौरान एप के उपयोग में तकनीकी समस्याएं आईं थी। अब इन्हें जल्द से जल्द दूर करने के प्रयास किया जा रहा है।

केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने लोगों तक वैक्सीन पहुंचाने के लिए कोविन एप जारी किया है। इस एप पर रजिस्ट्रेशन करने के बाद ही लोगों का वैक्सीनेशन किया जाएगा। बहुत जल्द ही इस एप को प्लेस्टोर से डाउनलोड किया जा सकेगा। स्वास्थ्यकर्मियों की जानकारी भी कोविन एप में अपलोड की गई है।

शहर में कोरोना वैक्सीन को रखने के लिए 28 फोकल प्वाइंट निर्धारित किए हैं। प्रत्येक फोकल प्वाइंट पर आईसलाइन रेफ्रिजरेटर (आईएलआर) और डीपफ्रीजर की व्यवस्था की गई है। सीएमएचओ ने बताया कि जिले में 49 डीपफ्रीजर और 52 आईएलआर हैं। यहां बता दें कि जिला अस्पताल में जिला वैक्सीन स्टोर बनाया गया है।

स्वास्थ्यकर्मियों को वैक्सीन लगाने का काम सरकारी के साथ निजी स्वास्थ्य संस्थाओं में भी किया जाएगा। जिला टीकाकरण अधिकारी डाॅ. आरके गुप्ता ने बताया कि वैक्सीन लगाने के लिए सेंटर बनाए जाएंगे। सरकारी संस्थाओं में कार्यरत स्वास्थ्य कर्मियों को उसी जगह वैक्सीन लगाई जाएगी। जिन निजी स्वास्थ्य संस्थाओं में स्वास्थ्यकर्मियों की संख्या ज्यादा होगी, उन्हें भी वैक्सीन सेंटर बनाया जाएगा।

ग्वालियर जिले में कार्यरत 11814 स्वास्थ्य कर्मियों को सबसे पहले वैक्सीन लगाने का काम किया जाएगा। इसके लिए 2324 वैक्सीनेटर भी चिन्हित कर लिए गए हैं। सीएमएचओ डाॅ. मनीष शर्मा ने बताया, शहर में सरकारी स्वास्थ्य संस्थाओं में 6880 और निजी संस्थाओं में 4934 स्वास्थ्यकर्मी कार्यरत हैं।

ये भी पढ़े :फिर लगा लॉकडाउन ब्रिटेन में , फरवरी माह के मध्य तक रहेगा प्रभावी

Daily Update के लिए अभी डाउनलोड करे : MP samachar का मोबाइल एप 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here