प्रोटेम स्पीकर रामेश्वर शर्मा ने लव जिहाद को ISIS का षडयंत्र बताया, कांग्रेस बोली- RSS का एजेंडा

0
68
love jihad rameshwar sharma
file photo

मध्य प्रदेश में लव जिहाद (Love jihad) के खिलाफ प्रस्तावित विधेयक का कांग्रेस और मुस्लिम संगठन विरोध कर रहे हैं। वहीं, बीजेपी के अंदर से ही इसे और सख्त करने की मांग उठ रही है। बीजेपी नेता और मध्य प्रदेश विधानसभा के प्रोटेम स्पीकर रामेश्वर शर्मा ने तो इसे आतंकी संगठन ISIS का षडयंत्र तक बता दिया।

ये भी पढ़े : Apple जल्द लाएगा अपना फोल्डेबल iPhone, जानिए कब तक 

प्रोटेम स्पीकर रामेश्वर शर्मा ने कहा कि लव जिहाद (Love jihad) पाकिस्तान की आईएसआई और आतंकी संगठनों का भारत के खिलाफ बड़ा षड्यंत्र है। उन्‍होंने 5 साल नहीं, बल्कि 10 साल की सजा का प्रावधान करने की बात कही है।

ये भी पढ़े : BCCI ने एमपीएल स्पोर्ट्स को टीम इंडिया का आधिकारिक किट स्पॉन्सर घोषित किया 

रामेश्‍वर शर्मा ने दलित और आदिवासी की बेटियों के धर्मांतरण के बाद मुस्लिम या ईसाई बनने पर उन्हें आरक्षण का लाभ न देने की मांग भी की है। उन्‍होंने यह भी कहा कि मुस्लिम संगठनों और कांग्रेस का विरोध करने से कुछ नहीं होगा। यह षड्यंत्र चल रहा है। हमारा विधेयक वोट के खातिर नहीं, बल्कि संस्कृति के लिए है।

ये भी पढ़े : लव जिहाद पर मध्‍यप्रदेश में होगी 5 साल की सजा, नरोत्तम मिश्रा का बड़ा बयान 

धर्म विशेष टारगेट नहीं

मध्‍य प्रदेश के गृह मंत्री नरोत्तम मिश्रा ने कहा कि लव जिहाद पर प्रस्‍तावित कानून धर्म विशेष से जुड़ा नहीं है। जो लालच देकर धर्मांतरण के लिए शादी करता है, ऐसे लोगों के लिए 5 साल का कठोर कारावास के लिए विधेयक लाया जाएगा। कांग्रेस ये बताए की वो विधेयक के साथ है या खिलाफ।

कांग्रेस ने बताया RSS का एजेंडा

कांग्रेस के सीनियर लीडर माणक अग्रवाल ने कहा कि प्रस्‍तावित विधेयक बदले की भावना से काम करने वाला है। एसटी-एससी के लोगों को इससे वंचित करने की जो बात की है, यह शुद्ध रूप से RSS का एजेंडा है। RSS चाहता है कि किसी भी सूरत में एससी-एसटी को लाभ न मिले और कांग्रेसियों को परेशान किया जाए। पहले से प्रदेश में कई कानून हैं।

 प्रस्तावित विधेयक का विरोध

लव जिहाद के प्रस्तावित विधेयक का मध्य प्रदेश जमीयत उलेमा ए हिंद ने विरोध शुरू कर दिया है। इस मुस्लिम संगठन के अध्यक्ष हाजी हारून ने कहा कि लव जिहाद के नाम पर प्रोपेगेंडा किया जा रहा है। उसे रोका जाना चाहिए।  

Daily Update के लिए अभी डाउनलोड करे : MP samachar का मोबाइल एप

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here