कोरोना काल में रावण का कद हुआ छोटा, रामलीला भी हुई निरस्त

0
102
Corona

ग्वालियर। कोरोना (Corona) काल पुरे देश में तबाही मचा रहा है।  कोरोना (Corona) की इस तबाही का असर आने वाले त्योहारों पर भी देखने को मिलेगा या यह कहे देखने को मिल रहा है। हर साल जिस रावण की लम्बाई साठ फ़ीट तक होती थी आज कोरोना ने उसका कद भी 14 फ़ीट का कर दिया है। जहाँ नवरात्री में पुरे देश में हर कोई रामलीला देखने जाता था। इस बार घर में बैठ कर टीवी देख रहा था। कोरोना काल में रावण का कद भी छोटा हो गया है। ग्वालियर के ठाटीपुर क्षेत्र में सबसे बड़ा 14 फीट का रावण दहन किया गया।

ये भी पढ़े : कोविड-19 के 24 घंटों में 45,149 नए मामले, आंकड़ा 79 लाख पार

सिंधिया परिवार भी लेता था हिस्सा –

हर वर्ष सिंधिया परिवार भी इस रामलीला में हिस्सा लेता था। लेकिन इस बार कोरोना (Corona) के चलते सिंधिया राज परिवार का पारम्परिक शमी पूजन भी बहुत ही औपचारिक तौर पर सोशल डिस्टेंसिंग का ध्यान रखते हुए महल में ही पूरा किया गया।

ये भी पढ़े : मुकुल वासनिक ने बीजेपी पर कसा तंज, सिंधिया ने अपनी महत्वाकांक्षाओ की पूर्ति हेतु सरकार गिराई 

रामलीला पर ताला तीसरी बार –

रामलीला को पहले भी दो बार निरस्त किया गया था। लेकिन तब हालत ऐसे नहीं थे। कोरोना (Corona) को देखते हुए पहले ही सरकार ने रामलीला पर प्रतिबन्ध लगा दिया था। लेकिन ऐसा 150 वर्षों में तीसरी बार हुआ है जब रामलीला को निरस्त किया गया है, इससे पूर्व 1962 की लड़ाई में हुआ था और माधवराव सिंधिया के निधन पर भी रामलीला का मंचन नहीं किया गया था।

ये भी पढ़े : सी बक्थोर्न ऐसा फल जिसमें सभी जरूरी तत्व, पढ़िए सभी विशेषताएं

Daily Update के लिए अभी डाउनलोड करे : MP samachar का मोबाइल एप

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here