झरने में नहाने के दौरान गिरा युवक, हजारों फीट नीचे गिरने के बाद भी ऐसे बची जान

0
342

महू।महू जाको राखे साइयां मार सके ना कोई यह कहावत एक बार फिर साबित हुई। गुरुवार को पर्यटक स्थल पातालपानी में घूमने पहुंचे बड़वाह का एक युवक झरने में नहा रहा था। इस दौरान उसका पैर स्लिप हो गया और हजारों फीट गहरे झरने में गिर गया। तभी यहां मौजूद प्रत्येक्षदर्शी विपिन ने बडगोंदा पुलिस को जानकारी दी। मौके पर पहुंची डायल 100 के पुलिसकर्मी हबीब खान और विपिन झरने में उतरे और युवक को झरने से बाहर निकाला। ग्रामीणों की मदद से 1 घंटे की मशक्कत कर युवक को झरने के ऊपर लाए, यहां से 108 की मदद से उसे इंदौर रेफर किया।

 

युवक का नाम सिकंदर है, जो बड़वाह का रहने वाला है। पातालपानी में मौजूद लोगों ने उसे मना भी किया कि झरने से दूर आ जाओ, लेकिन वह नहीं माना और वहीं बैठ कर नहाने लगा। इसी दौरान उसका संतुलन बिगड़ गया और झरने में जा गिरा।

 

पातालपानी पर्यटन क्षेत्र में आए दिन हादसे होते रहते हैं, इसके पहले भी कई लोग इस झरने से कूद कर अपनी जान गवां चुके हैं। इसके बाद प्रशासन ने झरने के आसपास रेलिंग लगा रखी है। फिर भी युवक रेलिंग पार कर झरने तक पहुंच गया। लेकिन उसे रोकने के लिए यहां कोई भी पुलिसकर्मी मौजूद नहीं था।

 

प्रशासन ने यहां पर होमगार्डों की नियुक्ति कर रखी है, लेकिन वह भी नजर नहीं आते। बात करें पंचायत की तो पंचायत के लोग यहां आने वाले लोगों से पार्किंग के नाम पर पैसे तो वसूलते है, लेकिन पंचायत ने कोई भी सुरक्षाकर्मी यहां नहीं रख रखा है। 6 महीने में यहां पर 2 लोगों ने झरने से कूदकर सुसाइड कर लिया था। उसके बावजूद भी स्थानीय प्रशासन इस ओर ध्यान नहीं दे रहा है। गुरुवार को गनीमत यह रही कि युवक की जान बच गई।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here