उपचुनाव बना बयानबाजी का खेल, कमलनाथ-शिवराज अवल्ल नंबर पर, जानिए कैसे

0
159
BJP-congress

भोपाल। मध्यप्रदेश में 28 सीटों पर 3 नवंबर को उपचुनाव (By-election) होने जा रहे है। जिसमे हर नेता अपना योगदान देने को आतुर है। बता दे हर नेता बयानबाजी के द्वारा योगदान दे रहा है। कोई किसी के कटाक्ष करता है तो कोई उस पर पलटवार। उपचुनाव (By-election) में बयानबाजी एक प्रथा बन गई है,जिसे हर नेता निभाने का प्रयास कर रहा है। हर उम्मीदवार किसी भी पार्टी का हो बयान पर पलटवार में बढ़ चढ़ कर हिस्सा ले रहा है।

ये भी पढ़े : कांग्रेस पहुंची चुनाव आयोग, बीजेपी के 9 नेताओ के खिलाफ की शिकायत

स्टार प्रचारक कुछ नहीं होता, मैं प्रचार करूँगा

चुनाव आयोग के कमलनाथ का स्टार प्रचारक का दर्जा ख़तम करने पर कमलनाथ ने कहा, जब विरोधी चुनाव हारने लगते है तब वह प्रशासन का दुरूपयोग करना शुरू कर देते है। कमलनाथ ने आगे कहा, स्टार प्रचारक कुछ नहीं होता में आज भी चुनाव प्रचार करूँगा।

कमलनाथ ने कहा “मैं जनता हु क्या इस्तिथि होती है विरोधी दाल की जब वो हार रहे हो, या पिट रहे हो।  जब पिट रहे होते है तब प्रशासन का उपयोग करो, पुलिस का उपयोग करो। इस प्रकार के उपयोग करती है विरोधी सरकार। जनता ये पूरी बात समझती है, और वह इनको (बीजेपी) को मुँह तोड़ जवाब देगी”। स्टार प्रचारक कुछ नहीं होता, मैं प्रचार करूँगा। 

ये भी पढ़े : तोमर : उपचुनाव साधारण नहीं, मध्यप्रदेश की दिशा और दशा निर्धारित करेगा

कमलनाथ को अहंकार –

कालनाथ के इस बयान पर शिवराज ने किया पलटवार कहा, मुख्यमंत्री शिवराज ने कहा कमलनाथ पर अहंकार हावी है। वो किसी की बात नहीं मानते, राहुल गाँधी की भी नहीं मानते। कमलनाथ को किसी ने समझा दिया होगा, केवल वहीँ सही है। उन्होंने चुनाव आयोग को भी गलत कह दिया। मुख्यमंत्री ने दावा किया की सरकार उन्ही की रहेगा। सब गलत है केवल वही सही है। यह अहंकार ही व्यक्ति को नीचे ले जाता है।

ये भी पढ़े : कोविड-19 के भारत में पिछले 24 घंटों में 48,268 नए मामले, आंकड़ा 81 लाख पार 

Daily Update के लिए अभी डाउनलोड करे : MP samachar का मोबाइल एप

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here