बिहार विधानसभा चुनाव में किस पार्टी के घोषणा पत्र में क्या, पढ़िए

0
62
bihar election

बिहार। बिहार विधानसभा के चुनावी (Bihar elections) रण में बाजी मारने के लिए सबी दलों ने चुनावी वादों की झड़िया लगा दी है। चुनावी अखाड़े में दमखम दिखाने को भी सभी राजनीतिक पार्टियां तैयार हैं।  फिर चाहे बीजेपी हो या आरजेडी, कांग्रेस हो या एलजेपी तक, सभी ने बिहार की जनता को लुभाने के लिए अपना-अपना घोषणा-पत्र जारी कर दिया है।

28 अक्टूबर को बिहार चुनाव (Bihar elections) में पहले चरण के लिए वोटिंग है, इससे ठीक पहले अब करीब सभी पार्टियों का मेनिफेस्टो सामने आ गया है।  जिसके आधार पर बिहार की जनता अपना मत निर्धारित कर सकती है। आरजेडी ने जहां अपने घोषणा पत्र में 10 लाख नौकरी का वादा कर सबसे बड़ा चुनावी दांव खेला है। तो वहीं एलजेपी ने सीता मैया का मंदिर बनवाने का वचन दिया है। इधर भारतीय जनता पार्टी ने भी अपना 5 सूत्र, एक लक्ष्य, 11 संकल्प के विजन डाक्‍यूमेंट जारी किया है।

पढ़िए किस पार्टी के घोषणा पत्र में क्या …..

ये भी पढ़े : दिग्विजय सिंह पर 4 बीजेपी मंत्रियों ने लगाया मानहानि का केस

महागठबंधन के घोषणा पत्र में क्या-क्या वादें

बिहार विधानसभा चुनाव (Bihar elections) के लिए महागठबंधन ने नवरात्र के पहले दिन अपना घोषणा-पत्र जारी किया। महागठबंधन ने साझा घोषणा पत्र को “बदलाव के संकल्प पत्र” का नाम दिया है। आरजेडी के साथ-साथ कांग्रेस और वाम दलों में सरकार गठन के बाद बिहार के लिए जो प्राथमिकताएं तय की है।

उसका जिक्र इस घोषणापत्र में किया गया है।

  • पहली कैबिनेट में दस लाख नौजवानों को रोजगार
  • परीक्षा के लिए भरे जाने वाले आवेदन फार्म पर फीस माफ
  • परीक्षा केंद्रों तक जाने का किराया सरकार देगी
  • पलायन रोकने के लिए करेंगे काम
  • शिक्षकों के लिए समान काम समान वेतन का वादा
  • जीविका दीदियों का मानदेय दोगुना करने का वादा
  • पहले विधानसभा सत्र में केंद्र के कृषि संबंधी तीनों बिल के प्रभाव से बिहार के किसानों को मुक्ति दिलाने का वादा किया गया है।

ये भी पढ़े : नवरात्री का पाँचवा दिन, स्कंदमाता ज्ञान व कर्म शक्ति की देवी

भाजपा के घोषणा-पत्र में क्या-क्या

बीजेपी ने बिहार विधानसभा चुनाव (Bihar elections) के लिए अपने विजन डाक्‍यूमेंट में 11 संकल्प किए हैं। इनमें सबसे पहला है कि अगर सत्ता में आए तो कोरोना वैक्सीन का मुफ्त टीकाकरण किया जाएगा। बीजेपी ने अपने संकल्प पत्र में 19 लाख नौकरी देने का भी वादा किया है। तो चलिए जानते हैं अन्य वादे…

  • कोरोना वैक्सीन उपलब्ध होने पर हर बिहारवासी का मुफ्त में होगा टीकाकरण
  • सरकार बनने के एक साल के भीतर हर तरह के स्कूलों और विश्वविद्यालयों में 3 लाख शिक्षकों की भर्ती का वादा
  • एक करोड़ महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाने का वादा
  • बीजेपी ने अपने संकल्प पत्र में 19 लाख नौकरी देने का भी वादा किया है
  • 2022 तक 30 लाख लोगों को पक्के मकान देने का वादा
  • मेडिकल और इंजीनियरिंग समेत सभी तकनीकी कोर्स को हिन्दी भाषा में उपलब्ध कराने का वादा

ये भी पढ़े : नवरात्री का छठा दिन, माँ कात्यायनी को अधिष्ठात्री देवी भी कहते है

कांग्रेस का घोषणा-पत्र

बिहार विधानसभा चुनाव (Bihar elections) अगले हफ्ते से शुरू हो रहे है। उसी को ध्यान में रखते हुए कांग्रेस ने बुधवार को अपना महागठबंधन से अलग एक घोषणा पत्र जारी किया। पार्टी ने इसे बिहार बदलाव पत्र नाम दिया है। इस घोषणा पत्र में कांग्रेस ने बिहार के किसानों से सत्ता में आने पर मुफ्त बिजली और कर्ज माफ करने का वादा किया है।

  • सत्ता में आने पर किसानों का कर्ज माफ
  • गरीबों का बिजली बिल माफ
  • किसानों के सही फसल का सही मूल्य दिलाने का वादा
  • कृषि कानूनों को खारिज करने का वादा
  • नौकरी मिलने तक बेरोजगारों को हर महीने 1500 रुपए देने का वादा
  • विधवा महिलाओं को ₹1000 का पेंशन देने का वादा

ये भी पढ़े : वीडी शर्मा ने ट्वीट कर कमलनाथ पर कसा तंज, कांग्रेस के वादे बताये झूठे

लोजपा का घोषणा-पत्र

बिहार विधानसभा चुनाव (Bihar elections) के लिए लोजपा ने विजन डाक्यूमेट जारी किया। लोजपा प्रमुख चिराग पासवान ने घोषणा पत्र के तौर पर डाक्यूमेंट जारी करते हुए सीता मैया का भव्य मंदिर बनाने का वादा किया। जानिए उनके प्रमुख वादे…

  • बिहार फर्स्ट बिहारी फर्स्ट के लागू होने से सभी महिलाओं को मुफ्त में बस यात्रा की सुविधा मिलेगी।
  • समान काम समान वेतन का वादा
  • सभी विभागों के अनुमोदित व स्वीकृत पदों में शीघ्र बहाली
  • अत्याधुनिक कैंसर संस्थानों की स्थापना का वादा
  • बिहार फर्स्ट बिहारी फर्स्ट युवा आयोग का गठन का वादा
  • माता सीता का भव्य मंदिर निर्माण का वादा
  • अनुसूचित जाति-जनजाति छात्रावास को वाई-फाई, लाइब्रेरी, मेस, खेलकूद सामग्री, व सुरक्षा गार्ड के साथ आधुनिक बनाने का वादा

ये भी पढ़े : कोविड-19 के भारत में पिछले 24 घंटों में 55,838 नए मामले, आंकड़ा 77 लाख पार

एनडीए का घोषणा-पत्र अब तक नहीं आया

यहां ध्यान देने वाली बात है कि अब तक एनडीए ने अपना घोषणा-पत्र जारी नहीं किया है। उम्मीद की जा रही है कि आज-कल में एनडीए अपना घोषणा पत्र जारी करेगा। लेकिन एनडीए ने बिहार चुनाव (Bihar elections) को लेकर अपना रिपोर्ट कार्ड जरूर जारी किया है।

ये भी पढ़े : चलो-चलो… वाले कमलनाथ को जनता ही चलता करेगीः चौहान

एनडीए का रिपोर्ट कार्ड

रिपोर्ट कार्ड में सबसे पहले जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाने और अयोध्या में राम मंदिर की नींव रखने को शामिल किया गया है। जबकि मुस्लिम महिलाओं को तीन तलाक से आजादी दिलाने को बीजेपी ने अपनी वैचारिक पृष्ठभूमि को नया आयाम देना बताया है। रिपोर्ट कार्ड में सड़कों का हवाला देते हुए कहा गया है कि 2775 किमी एनएच को फोरलेन बनाया। गांव की हर गली-नली का निर्माण और पक्की सड़कों का जाल बिछाया।

आजादी के 58 वर्षों तक गंगा नदी पर चार पुल थे। 15 वर्षों में 13 नए पुलों में दो बन गए तो आठ निर्माणाधीन व तीन प्रस्तावित हैं। 2005 से पहले कोसी पर दो पुल थे जो अब छह और गंडक पर तीन थे तो अब चार नए पुल निर्माणाधीन व प्रस्तावित हैं। कोसी महासेतु पर रेल का परिचालन होने से मिथिलांचल का निर्बाध जुड़ाव हुआ। 150 वर्षों के बाद कोईलवर पुल के समानांतर छह लेन पुल का निर्माण कार्य प्रगति में है जिसमें दो लेन अगले दो महीने में चालू हो जाएगा।

ये भी पढ़े : नरेंद्र सिंह तोमर : कांग्रेस के पास बताने को कोई उपलब्धि नहीं, सभी सीटें जीतेगी बीजेपी

Daily Update के लिए अभी डाउनलोड करे : MP samachar का मोबाइल एप

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here