सिंगरौली पुलिस पर वाराणसी में हमला, घायल होने के बाद भी पुलिसकर्मी ने अपराधी को नहीं छोड़ा

0
103
singrauli police

सिंगरौली : जिले की मोरवा पुलिस ने नौकरी के नाम पर धोखाधड़ी के आरोपी को गिरफ्तार करने बनारस गई थी। उसी वक्त धोखे से मोरवा पुलिस पर बदमाशों ने हमला कर घायल कर दिया था। पुलिसकर्मियों पर हुए इस हमले में दो जवान घायल हो गए हैं। परंतु सिंगरौली पुलिस के जबांजी ऐसी कि घायल होने के बावजूद उन्होंने आरोपी को कब्जे में लिए रखा।

ये भी पढ़े : मध्य प्रदेश में बनेगी Cow Cabinet, शिवराज सिंह चौहान का एलान

मामला बुधवार दोपहर उत्तर प्रदेश बनारस के शहर शिवपुर थाना क्षेत्र का बताया जा रहा है। जानकारी के अनुसार मोरवा क्षेत्र अंतर्गत प्राइवेट कंपनियों में नौकरी दिलाने के नाम पर पैसा वसूली के मामले में महेशनगर कॉलोनी शिवपुर वाराणसी निवासी रमेश सिंह पर मुकदमा दर्ज किया गया था। बताया जा रहा है कि 3 माह पूर्व बैढ़न के 8 लोगों की शिकायतों पर आरोपी के विरुद्ध ठगी के मामले में अपराध दर्ज किया गया था। बताया जाता है कि एनसीएल की खड़िया परियोजना क्षेत्र का अस्थाई निवासी कथित नेता रमेश सिंह जो फरार चल रहा था।

मोरवा पुलिस को मुखबिर की सूचना मिली थी कि वह अपने वाराणसी स्थित आवास पर रह रहा है, जिसके बाद सिंगरौली पुलिस अधीक्षक बीरेंद्र सिंह के निर्देशन पर मोरवा निरीक्षक मनीष त्रिपाठी और सहायक पुलिस निरीक्षक साहब लाल सिंह के नेतृत्व में पहुंची टीम ने वांछित आरोपी रमेश सिंह को गिरफ्तार कर लिया था। जिसे ट्रांजिट रिमांड पर लेने के लिए कोर्ट में पेशी के लिए लेकर जा रही थी।

पुलिस टीम पर हमला

उसी समय पुलिस टीम पर आरोपी के परिवारजनों के आधा दर्जन लोगों ने धारदार हथियारों से हमला कर दिया। इस हमले में प्रधान आरक्षक दयानंद सिंह कि सिर पर गंभीर चोटें आईं, वहीं सहायक उपनिरीक्षक साहब लाल सिंह भी घायल हुए। परंतु घायल पुलिसकर्मियों ने जंबाजी दिखाते हुए आरोपी को गिरफ्त में लिए रहा। इधर हो हल्ला मचाने पर आगे आए लोगों की वजह से आरोपी वहां से भाग निकले। जिन्हें बाद में शिवपुरी पुलिस और मोरवा पुलिस की संयुक्त टीमों के प्रयास से हमले में शामिल 5 लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया है।  

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here